तेरा वजूद मेरी दुआओं में हो मेरी हाथों की लकीरों में तू ऐसे समाये मैं दुआ में अमीन कहूं और तू मेरी हो जाये

Hindi love shayri 

तेरे खामोश लबो पर मोहब्बत गुन गुनाती है तू मेरी है मैं तेरा हूँ बस… यही आवाज़ आती है

Hindi love shayri 

आप और आपकी हर बात मेरे लिए ख़ास है यही शायद प्यार का पहला एहसास है

Hindi love shayri 

हाल तो पूछ लू तेरा पर डरता हूँ आवाज़ से तेरी ज़ब ज़ब सुनी है कमबख्त मोहब्बत ही हुई है

Hindi love shayri 

तुम्हारी खुशियों के ठिकाने बहुत होंगे मगर हमारी बेचैनियों की वजह… बस तुम हो

Hindi love shayri 

तेरे खामोश होठों पर मोहब्बत गुन गुनाती है तू मेरी है मैं तेरा हूँ बस यही आवाज़ आती है

Hindi love shayri 

इश्क तो फिर असर भी होगा, जितना है इधर , उधर भी होगा

Hindi love shayri 

मेरे होंठो पर लफ्ज़ भी अब तेरी तलब लेकर आते हैं तेरे जिक्र से महकते हैं तेरे सजदे में बिखर जाते हैं।

Hindi love shayri