Cloud Banner

  बेस्ट हिंदी बेवफा  शायरी -  कृपया बच्चे न देखे

Cloud Banner

चाहिए ख़ुद पे यक़ीन-ए-कामिल हौसला किस का बढ़ाता है कोई

Cloud Banner

धूप में निकलो घटाओं में नहा कर देखो ज़िंदगी क्या है किताबों को हटा कर देखो

Cloud Banner

दर्द ऐसा है कि जी चाहे है ज़िंदा रहिए ज़िंदगी ऐसी कि मर जाने को जी चाहे है

Cloud Banner

देखा है ज़िंदगी को कुछ इतने क़रीब से चेहरे तमाम लगने लगे हैं अजीब से

Cloud Banner

आप की याद आती रही रात भर चश्म-ए-नम मुस्कुराती रही रात भर

Cloud Banner

और भी दुख हैं ज़माने में मोहब्बत के सिवा राहतें और भी हैं वस्ल की राहत के सिवा

Cloud Banner

आज देखा है तुझको देर के बाद आज का दिन गुज़र न जाए कहीं