जीवन कोइ दौड नही,यह एक अभ्दुत घटना है

“आध्यात्मिक का मतलब है क्रमिक विकास की प्रक्रिया को तेजी से बढ़ाना।”

“एक बार जब आपका मन पूर्ण रूप से स्थिर हो जाता है तब आपकी बुद्धि मानवीय सीमाओं को पार कर जाती है।”

“लोग किताबों को पवित्र कहते है लेकिन उन्हें अभी भी ये समझना है कि जीवन पवित्र है।”

“एक गुरु कोई ऐसा नहीं होता जो आपके लिए मशाल पकड़ता है बल्कि वो खुद मशाल होता है।”

“भौतिक अस्तित्व का बस एक छोटा सा पहलू है, इस ब्रह्मांड में 1% भी भौतिक नहीं है – बाक़ी गैर -भौतिक है।”

“अविश्वसनीय चीजें आसानी से की जा सकती हैं यदि हम उन्हें करने के लिए प्रतिबद्ध हैं।”