आज के दौर में जरूरतें इतनी हैं कि कई बार कर्ज लेना मजबूरी भी बन जाता है.

दूसरी ओर आजकल बैंक और वित्तीय संस्थाएं भी कर्ज आसानी से देने लगी हैं

लेकिन कई बार वे यह प्लान नहीं कर पाते हैं कि कर्ज को चुकाना कैसे है. बेहतर प्लानिंग न होने से यह कर्ज उनके लिए बड़ी मुसीबत बनता जाता है.

आम तौर पर, घर और शिक्षा जैसे कर्ज छह महीने या उससे अधिक तक चुकाने का वक्त देते हैं. इसलिए, आपको ड्यू डेट से प्रीमियम का भुगतान शुरू करने के लिए पर्याप्त रकम रिजर्व रखना चाहिए

1.   योजना बनाएं

क कर्मचारियों के साथ चर्चा करके उन्हें अपनी मौजूदा आर्थिक हालात के बारे में बताएं और कर्ज चुकाने के लिए और वक्त मांगे.

2. Debt पेमेंट के लिए कार्यकाल बढ़ाएं

एक उधारकर्ता रिफाइनेंस के लिए जा सकता है – यानी, अधिक आसान नियम और शर्तों पर कर्ज या अधिक अनुकूल शर्तों के साथ एक बदली गई योजना के अनुसार.

3 .रिफाइनेंस कराए

संपत्ति हमेशा वित्तीय संकट से निपटने में मदद करती है |एक उधारकर्ता बंधक का लाभ उठाने के लिए अपनी संपत्ति का इस्तेमाल कर सकता है

4. मौजूदा संपत्ति मदद करती है

यदि किसी की नेगोशिएन स्किल्स बेहतर है तो कर्ज के बोझ को कम करने का एक और उपयोगी विकल्प यह है कि कर्जदाता से कुल राशि में छूट पाने के लिए एक छोटी अवधि में एकमुश्त भुगतान कर दें.

5. स्मार्ट बनें और Debt सेटलमेंट की कोशिश करें

लेख को जरुर शेयर करें

अगला लेख पढ़े